Friday, December 3, 2010

पर्दा था जो , बेपर्दा हुआ

इल्जाम लगा के वो ,
ऐसे चले गए !!
वक़्त ने नज़र का ,
ऐसा रुख मोड़ दिया !!
एक पर्दा था जो ,
बेपर्दा हुआ उनका!!
उनकी ज़फाओं ने ,
मेरा दिल तोड़ दिया !!
हर ख्वाब को,
उनसे जोड़ा था!!
दिल उस ने मेरा
क्यूँ तोडा था !!
कुछ पल साथ चले ,
बीच रास्ते ,
साथ छोड़ दिया !!

5 comments:

  1. pyyar men aisa bhi hota hai , himmat banaye rakhiye

    ReplyDelete
  2. pyar me dil tootna iska ek abhinn hissa hai. ye to hota rahta hai. sunder rachna.

    ReplyDelete
  3. ये जिंदगी का दस्तूर है ... हसीं लोग साथ बीच में ही छोड़ जाते हैं ....

    ReplyDelete
  4. मंगलवार 11/02/2014 को आपकी पोस्ट का लिंक होगा http://nayi-purani-halchal.blogspot.in पर
    आप भी एक नज़र देखें
    धन्यवाद .... आभार ....

    ReplyDelete
  5. एक निवेदन
    कृपया निम्नानुसार कमेंट बॉक्स मे से वर्ड वैरिफिकेशन को हटा लें।

    इससे आपके पाठकों को कमेन्ट देते समय असुविधा नहीं होगी।

    Login-Dashboard-settings-posts and comments-show word verification (NO)

    अधिक जानकारी के लिए कृपया निम्न वीडियो देखें-

    http://www.youtube.com/watch?v=VPb9XTuompc

    धन्यवाद!

    ReplyDelete